Shakahar.in [email protected]

दया को प्रोत्साहन

सभी जीवों को दया और सम्मान पाने का हक है। मर्सी फ़ोर एनिमल्स (MERCY FOR ANIMALS) उन्हें आशा दिलाता है।

हाँ! मैं कैसे मदद कर सकता/सकती हूँ, इस पर अपडेट भेजें।

goat-in

विचारों के लिये खुराक

मुर्गी, बकरी, गाय, मछली, सूअर अदी भोजन के लिये पाले जाने वाले जानवर उसी प्रकार होशियार और अनोखे हैं जैसे हमारे घरों में रहने वाले कुत्ते-बिल्लियाँ। लेकिन आधुनिक फ़ैक्ट्री फ़ार्म के बंद दरवाजों के पीछे उन पर बर्बर अत्याचार किया जाता है। अधिकांश अपना पूरा जीवन अंधेरे, खचाखच भरे, गंदगी से लदे शेड में बिताने को मजबूर होते हैं। कुछ इतने छोटे पिंजरे में बंद होते हैं जहाँ वो मुश्किल से मुड़ भी सकें। चूकि कई पशु कानून उनकी रक्षा नहीं करते, फ़ार्म्ड पशुओं की कई बार निर्दयतापूर्वक पिटाई, अंगछेदन और दर्दनाक तरीके से हत्या की जाती है।

एक साथ मिलकर हम इसका पर्दाफ़ाश और समाप्ति कर सकते हैं। दयापूर्ण खान-पान और हितकर नीति को प्रेरित कर फ़ार्म्ड पशुओं की सुरक्षा के लिये हमारे साथ आइये।

NEWS

नयी खबर

हमारा दृष्टिकोण

हम फ़ार्म्ड पशुओं की रक्षा के लिए अगले मोर्चे से लड़ रहे हैं। फ़ैक्ट्री फ़ार्म्स से कॉर्पोरेट बोर्डरूम, न्यायलयों से लेकर जनता की अदालतों तक, मर्सी फ़ोर एनिमल सर्वत्र क्रूरता के खिलाफ और पशुओं के प्रति करुणा की बात करता है।

अंडरकवर इन्वेस्टिगेशन (गुप्त जाँच)

कानूनी वकालत

उद्योगपतियों तक पहुँच

शिक्षण

वीडियो

Play
Play
Play
Play
previous arrow
next arrow
Slider